निर्माण में विषयों की सूची

Priyanka Mishra

स्थापत्य शास्त्र (Architecture):

इस विषय में छात्र सीखते हैं कि एक भवन कैसे डिज़ाइन किया जाए ताकि वह सुरक्षित, सुंदर और फंक्शनल हो।

स्थानीय निर्माण (Civil Engineering):

सड़क, पुल, और इमारतों की निर्माण में मास्टरी प्राप्त करने के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (Electrical Engineering)

निर्माण परियोजनाओं में बिजली सप्लाई की सुरक्षितता और उपयोग के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

मैटेरियल इंजीनियरिंग (Material Engineering):

यह विषय छात्रों को सही और उपयुक्त सामग्रियों का चयन और उनका सही तरीके से उपयोग करना सिखाता है।

प्रबंधन (Management):

निर्माण परियोजनाओं का सही ढंग से प्रबंधन करने के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

पर्यावरण इंजीनियरिंग (Environmental Engineering):

निर्माण परियोजनाओं का सही ढंग से प्रबंधन करने के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

सुरक्षा इंजीनियरिंग (Safety Engineering):

निर्माण स्थलों में सुरक्षितता की देखभाल के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

कंस्ट्रक्शन मैनेजमेंट (Construction Management):

परियोजना की प्रबंधन और निगरानी के लिए इस विषय का अध्ययन किया जाता है।

बिल्डिंग टेक्नोलॉजी (Building Technology):

नवीनतम तकनीकी उपायों का अध्ययन करके निर्माण कार्यों को आसान और इंजीनियरिंग में प्रगति कराने के लिए इस विषय की आवश्यकता है।

Next: कंस्ट्रक्शन करते टाइम सभी दिक्कतों का जवाब